Wednesday, April 26, 2017

छत्तीसगढ़ के सुकमा में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि








"आज दिनांक 25/04/2017 को इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी की ओर से एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन कम्पनी बाग़ के गांधी पार्क स्थित शहीद स्मारक पर किया गया, जिसमे कल छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सलियों/आतंकवादियों द्वारा किये गये हमले में शहीद हुए हमारे 26 जवानों को मोमबत्ती जलाकर श्रद्धांजलि दी गयी, एवं दो मिनट का मौन रखकर मरने वाले शहीदों की आत्मा की शान्ति के लियें प्रार्थना की गयी, साथ ही इस हमले में गंभीर रूप से घायल दूसरे कई जवानों, शेर मोहम्मद आदि के जल्द से जल्द स्वस्थ होने के लियें दुआ की गयी।।
इस बारे में बोलते हुए *इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी* के अध्यक्ष *राशिद सैफ़ी* ने बताया कि नक्सलवाद और आतंकवाद दोनों ही हमारे देश के लियें एक अभिशाप है जिसके तहत हमारे ना जाने कितने बेगुनाह जवान हर साल अपनी शहादत देते हैं, आज से सात साल पहले भी छत्तीसगढ़ के इसी सुकमा में नक्सलियों ने हमारे 76 जवान शहीद कर दिए थे, और इसी तरह के हमलों में हर साल हमारे सैंकड़ों जवान और बेगुनाह लोग शहीद हो जाते हैं, और कल भी इसी तरह के हमले में हमारे सीआरपीएफ के 26 जवान शहीद हुए हैं। ये एक इन्सानियत को शर्मसार करने वाला कृत्य है, इन्सानियत किसी भी इंसान को किसी दूसरे इंसान की जान लेने की इजाज़त बिल्कुल नहीं देती, *इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी* इन्सानियत को शर्मसार करने वाले इस कृत्य की कड़े शब्दों में घोर निंदा, एवं भर्त्सना करती है, एवं मरने वाले शहीदों के परिवारों के प्रति संवेदना और दुःख व्यक्त करती है, और उनके साथ खड़ी है। और साथ इस हमले में गंभीर रूप से घायल सभी जवानों ख़ास तौर पर शेर मोहम्मद जैसे जवान, जिन्होंने अपनी जान पर खेल कर नक्सलियों से जमकर टक्कर ली, और ख़ुद घायल होते हुए भी अपने कई साथियों को कंधे पर उठाकर उनकी जान बचाई, "इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी" शेर मोहम्मद की बहादुरी को सलाम करते हुए सभी घायल जवानों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना करती है, और मरने वाले जवानों की आत्मा की शान्ति के लियें दुआ करती है।।
इस मौके पर मुख्य रूप से सोसाइटी के सभी कार्यकर्ता एवं काफी संख्या में शहर के वरिष्ठ नागरिक उपस्थित रहे। -
अध्यक्ष राशिद सैफ़ी, डॉ. इरशाद सैफ़ी, सरदार गुरविंदर सिंह, मीना भारद्वाज, फ़रीद अहमद, शारिक सैफ़ी, सदाकत हुसैन, रिज़वान, आकिल, डॉ. वसीम, नीरू कुमारी, लवकुश कंछल, मोहम्मद फ़ैज़, आदि उपस्थित रहे।।

0 comments:

Post a Comment