Humanity Welfare Society

“इन्सान का इन्सान से हो भाईचारा”

“यही पैग़ाम हमारा”

Humanity Welfare Society, the society's "sole purpose" is truly human way of life to all people of our community and society and to raise holdings of humanity! And with the oppressed of the oppressed society, the poor, the oppressed, helpless, helpless, to the work of "community service" by the help of the people as the true "purpose of the Society."

Contact Us
Humanity Welfare Society

“इन्सान का इन्सान से हो भाईचारा”

“यही पैग़ाम हमारा”

Humanity We Them Humanity Welfare Society, the society's "sole purpose" is truly human way of life to all people of our community and society and to raise holdings of humanity! And with the oppressed of the oppressed society, the poor, the oppressed, helpless, helpless, to the work of "community service" by the help of the people as the true "purpose of the Society."

Contact Us
Humanity Welfare Society

“इन्सान का इन्सान से हो भाईचारा”

“यही पैग़ाम हमारा”

Humanity We Them Humanity Welfare Society, the society's "sole purpose" is truly human way of life to all people of our community and society and to raise holdings of humanity! And with the oppressed of the oppressed society, the poor, the oppressed, helpless, helpless, to the work of "community service" by the help of the people as the true "purpose of the Society."

Contact Us
Humanity Welfare Society

“इन्सान का इन्सान से हो भाईचारा”

“यही पैग़ाम हमारा”

Humanity We Them Humanity Welfare Society, the society's "sole purpose" is truly human way of life to all people of our community and society and to raise holdings of humanity! And with the oppressed of the oppressed society, the poor, the oppressed, helpless, helpless, to the work of "community service" by the help of the people as the true "purpose of the Society."

Contact Us
Humanity Welfare Society

“इन्सान का इन्सान से हो भाईचारा”

“यही पैग़ाम हमारा”

Humanity Welfare Society

society's "sole purpose" is truly human way of life to all people of our community and society and to raise holdings of humanity! And with the oppressed of the oppressed society, the poor, the oppressed, helpless, helpless, to the work of "community service" by the help of the people as the true "purpose of the Society."

Contact Us
Humanity Welfare Society

“इन्सान का इन्सान से हो भाईचारा”

“यही पैग़ाम हमारा”

Humanity Welfare Society, the society's "sole purpose" is truly human way of life to all people of our community and society and to raise holdings of humanity! And with the oppressed of the oppressed society, the poor, the oppressed, helpless, helpless, to the work of "community service" by the help of the people as the true "purpose of the Society."

Contact Us

“इन्सान का इन्सान से हो भाईचारा”“यही पैग़ाम हमारा”

  • इस सोसाइटी का “एकमात्र मकसद” है हमारे समाज और सोसाइटी के सभी इन्सानों को सही मायनों में इन्सानियत से जीने की राह बताकर इन्सानियत की जोत जलाये रखना ! और साथ ही समाज के दबे-कुचले, गरीब, मजलूम, बेसहारा, लाचार, लोगों की हर संभव मदद करके “समाजसेवा” के काम करना ही इस सोसाइटी का असली “मकसद” है !

  • इस दुनिया में इन्सान से लेकर सारे प्राणी, जीव-जन्तु, पक्षी, कीड़े-मकोड़े आदि, सभी ईश्वर यानि ख़ुदा के बनाये हुए हैं! लेकिन सभी प्राणियों की तुलना में ईश्वर ने इन्सान नाम के प्राणी को सबसे श्रेष्ठ(आला) दर्जा दिया है! क्यूँकि इन्सान को ऊपर वाले ने वो “शक्तियाँ” और “भावनायें” दी हैं जो किसी जीव-जन्तु या दूसरे प्राणी को नहीं दीं ! और साथ ही इन्सान को “अच्छा” और “बुरा” रास्ता भी बता दिया है!

  • दोस्तों, हमारे समाज और सोसाइटी में यूँ तो जीने को तो हर इन्सान जी ही रहा है, लेकिन “सही मायनों” में “जीना” उसी इन्सान का है जिसके दिल में “इन्सान और इन्सानियत” के लियें “दर्द” हो, बल्कि यूँ कहें कि ख़ुदा के बनाये सारे प्राणी(मखलूक़), जीव-जन्तु, पक्षी, पेड़-पौधों आदि सभी के लियें जिस इन्सान के दिल में प्यार, दर्द, हमदर्दी, और जज़्बात हों, सही मायनों में जीना उसी इन्सान का होता है!

  • “इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी” बनाने का मक़सद भी यही है कि इन्सान को उसके “इन्सानियत के फ़र्ज़” से “रूबरू” कराया जाये, क्यूँकि आज के इस भाग-दौड़, आपा-धापी, प्रतिस्पर्धा(Competition), और तेज़-रफ़्तार, ज़माने में इन्सान अपनी इन्सानियत और इन्सानियत के फ़र्जों को “भूल” चुका है, और ईश्वर के बनाये दूसरे प्राणियों के दुःख-दर्द तो दूर, ख़ुद अपनी “इंसानी जाति” के लियें भी उसके दिल में प्यार, दया, करुणा, और भावनाओं, का भाव “ख़त्म” हो चुका है, जोकि “मानव जाति” के लियें बेहद “शर्म” की बात है !

SOCIETY NEWS

Wednesday, April 25, 2018

इन्सानियत बचाने को रखा उपवास

















"आज दिनाँक 15/04/18 रविवार को कांठ रोड, अकबर के किले के सामने "इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी" के अध्यक्ष राशिद सैफ़ी सोसाइटी के सदस्यों के साथ एक दिवसीय उपवास पर बैठे। समाज के गिरते स्तर, एवं शर्मसार हो रही, व मर रही इन्सानियत को ज़िन्दा रखने की ख़ातिर यह उपवास रखा गया।
इस सम्बंध में विस्तार से बताते हुए सोसाइटी के संस्थापक एवं अध्यक्ष राशिद सैफ़ी ने कहा कि आज हमारे समाज मे जो घृणित एवं शर्मनाक घटनाएं घट रही हैं जैसे (छोटी-छोटी बच्चियों से रेप एवं दरिंदगी, महिलाओं, लड़कियों से बलात्कार एवं शोषण, बेगुनाहों की हत्या, दंगा-फ़साद, तोड़फोड़, जात-पात, ऊँच-नीच का भेदभाव, आदि) इन सभी घृणित एवं शर्मनाक घटनाओं के लिये पूरी तरह हम इंसान ही जिम्मेदार हैं क्योंकि ये सभी शर्मनाक घटनाएं हम इंसान ही कर रहे हैं, कोई जानवर, पशु-पक्षी या पेड़-पौधे नहीं कर रहे। आज हमारे समाज को गंदा करने में हम इंसानों का ही हाथ है। और हम सभी इंसानों को सुधरने की ज़रूरत है चाहें वो सरकारों में बैठे लोग हों या आम इंसान हो। आज इसी सोच और मक़सद को ध्यान में रखते हुए इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी द्वारा ये एक दिवसीय उपवास रखा गया। सोसाइटी के अध्यक्ष सुबह 4 बजे सेहरी खाकर उपवास पर बैठे और शाम 7 बजे उपवास खोला। इस उपवास के ज़रिए किसी सरकार, शासन-प्रशासन से कोई मांग नहीं कि गयी, बल्कि ईश्वर के बनाये हुए सभी इंसानों से मांग की गयी कि *"इन्सानियत को बचा लो", "मानवता को बचा लो"* और मरती हुई इन्सानियत को ज़िन्दा रखने की अपील की गई। इस उपवास में शहर मुरादाबाद की कई अन्य सामाजिक संस्थाओं ने सहयोग एवं समर्थन किया, जिनमें *सर्वधर्म सेवा संगठन, चाइल्ड लाइन (SAARD) IFTM यूनिवर्सिटी, सामाजिक समरसता मंच, गंगा प्रदूषण समिति, बेटी का घर, संस्कृति जान कल्याण समिति, आदि संस्थाएं शामिल रहीं*।
इस अवसर पर इन संस्थाओं के एवं शहर मुरादाबाद के ये सभी सम्मानित लोग मौजूद रहे - राशिद सैफ़ी, कपिल सिंह, अनुज अग्रवाल, संत रामदास, नदीम मुक़म्मली, रिज़वान-उल-हक़, श्रद्धा शर्मा, डॉ अलका शर्मा, डॉ नीलम कुमारी, डॉ मुकेश दिवाकर, नीना उपाध्याय, रिज़वान हुसैन, आसिफ हुसैन, शहज़ाद खां, मो0 शमीम, रवींद्रनाथ भाटिया, जावेद सैफ़ी, नीतू सक्सेना, नसीम मलिक, प्रदीप कश्यप, गौतम सिंह, मनीष सिंह, आशीष यादव, फ़िरोज़, तनवीर फ़ात्मा आदि लोग मौजूद रहे।।

इंसानियत वेलफेयर सोसाइटी का टी बी जागरूकता दिवस





"आज दिनांक 26/03/18 को विश्व क्षय दिवस(टीबी रोग) के अवसर पर जैन मंदिर पोलियो चौक पर टीबी की बीमारी के प्रति समाज को जागरूक एवं टीबी रोग के निदान के लियें आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में *इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी* की और से भाग लेते हुए सोसाइटी के अध्यक्ष "राशिद सैफ़ी"।।

इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी का फ्री मेडिकल कार्ड कैम्प











आज दिनाँक 01/04/18 रविवार को *इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी* की ओर से कांठ रोड स्थित हिमगिरि कालोनी में एक *फ्री मेडिकल कार्ड* बनाने का कैम्प आयोजित किया गया। जिसमें सोसाइटी की ओर से ग़रीब, ज़रूरतमंदों, एवं आर्थिक रूप से कमज़ोर लोगों के लियें सस्ते इलाज, एवं फ्री इलाज हेतु निःशुल्क मेडिकल कार्ड बनाये गये। सोसाइटी के इस *फ्री मेडिकल कार्ड* के ज़रिये कार्ड स्वामी अस्पताल में जाकर बिना किसी फ़ीस के डॉ को दिखा सकता है, एवं बेहद सस्ते और कम दामों में एवं निःशुल्क दवाईयां प्राप्त कर सकता है, साथ ही इस कार्ड के द्वारा किसी भी गंभीर बीमारी से पीड़ित व्यक्ति, अथवा अस्पतालों में किसी भी तरह के ऑपरेशन में होने वाला खर्चा भी इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी कम से कम कराने का कार्य इस कार्ड के माध्यम से कर रही है। आज के इस फ्री मेडिकल कैम्पमें कार्ड बनवाने वालों की भारी भीड़ रही और क़रीब 100 लोगों के फ्री मेडिकल कार्डसोसाइटी द्वारा बनाये गये। फ्री मेडिकल कार्ड बनाने का यह कैम्प इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी की ओर से हर माह शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में लगाया जायेगा।
इस अवसर पर सोसाइटी के ये सभी सदस्य मौजूद रहे - राशिद सैफ़ी(अध्यक्ष) कपिल सिंह, विनय विशनोई, शारिक सैफ़ी, फरीद अहमद, गौतम सिंह, अनुज अग्रवाल, गौरव कुमार, पप्पू भाई, मो0 फ़ैज़, मो0 शादान आदि मौजूद रहे।।

इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी का होली मिलन समारोह








"आज दिनांक 03/03/18 को इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी की ओर से हिमगिरि कालोनी में एक "होली मिलन समारोह" का आयोजन किया गया। जिसमें भारी संख्या में शहर के वरिष्ठ समाजसेवी एवं सम्मानित व्यक्ति उपस्थित रहे। कार्यक्रम के बारे बताते हुए सोसाइटी के संस्थापक एवं अध्यक्ष राशिद सैफ़ी ने बताया कि इन्सानियत वेलफेयर सोसाइटी द्वारा समय-समय पर समाज के सभी धर्मों, सभी वर्गों को "जोड़ने" एवं समाज में इन्सानियत स्थापित करने हेतु "सामाजिक कार्यक्रम" आयोजित किये जाते हैं। इसी कड़ी में सोसाइटी हर साल ईद मिलन समारोह, एवं होली मिलन समारोह, आयोजित करती है, जिसका मक़सद समाज में "प्रेम, "सदभाव, और "भाईचारा स्थापित करके इन्सानियत का पैग़ाम देना होता है। इसी उद्देश्य को लेकर आज होली मिलन समारोह का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम में सभी वक्ताओं ने सभी धर्मों के त्यौहार प्रेम, सदभाव, एवं भाईचारे से मनाने की अपील की। इस अवसर पर शहर के ये सभी सम्मानित लोग मौजूद रहे। - राशिद सैफ़ी, सरदार गुरविंदर सिंह, चाईल्डलाईन की समन्वयक श्रद्धा शर्मा, रोज़लीन, रवीन्द्रनाथ भाटिया, अनुज अग्रवाल, गौतम सिंह, विनय विशनोई, कपिल सिंह, फरीद अहमद, तनवीर फ़ातिमा, नेपाल सिंह, मो0 यामीन, संजीव लाल, गुफरान इलाही, शारिक सैफ़ी, मो0 फ़ैज़, मो0 शादान, साबिर हुसैन, आदि उपस्थित रहे।